सतीश मित्तल- विचार

ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः

169 Posts

25902 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 6153 postid : 1110506

सस्ती LPG का जिम्मेदार कौन ?

Posted On: 26 Oct, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

लोकतंत्र में जनता उसी पार्टी को वोट देकर सत्ता में बिठाती है जो उसके हितों के बारे में न केवल सोचे वरन उन पर अमल भी करे। सरल शब्दों में वोटर न कांग्रेसी होता है, न भाजपाई । उसे सपा, बसपा या आम आदमी से कोई सरोकार नहीं । सरोकार है जो उसके हित में काम करे । वोटर की यही सोच राज्य व् केंद्र में सत्ता को परिवर्तित कर, लोकतंत्र को और मजबूत बना ,देश को प्रगति की राह पर ले जाती है। देश में तानाशाही रोकती है । नेताओं , अफसरों को मनमाने फैसले करने से रोकती है। एयरकंडीशनर से निकल कर ग्राउंड पर काम करने को मजबूर करती है। जिस प्रकार किसी अफसर के तबादले का मकसद , किसी संभावित गठजोड़ या हेरा फेरी को रोकना होता है, उसी प्रकार लोकतंत्र में सरकारों को सत्ता से बेदखल कर नए लोगों का मौक़ा देकर , हटाये गये लोगों के कार्य कलापों का उचित मूल्यांकन किया जा सकता है। होने वाले घोटालों से देश को होने वाले संभावित नुकसान से बचाया जा सकता है। कोल घोटाला आदि इसी तरह के ज्वलंत उदाहरण है । 1977 से अब तक केंद्र में जब-जब सत्ता परिवर्तन हुआ, जनता ने कुछ न कुछ नया पाया। रेडियों , TV लाइसेंस खत्म हुआ , LPG रसोई गैस कनेक्शन की लाइन खत्म हुई। आदि-आदि ।
खैर जो भी हो आज LPG रसोई गैस सिलेंडर की कीमत की बात करतें है। श्रीमती जी ने 24 Oct.2015 को मोबाइल पर LPG सिलेंडर बुक कराया और आश्चर्य तब हुआ, जब उसी दिन डिलीवर भी हो गया। सिलेंडर के Rs.517.50 देने के बाद श्रीमती जी के मुहं से अचानक ही निकल गया । अरे! मोदी जी के राज में बाजार भाव से LPG गैस सिलेंडर काफी सस्ता हो गया । जबकि UPA-2 मनमोहन राज में इसी सिलेंडर के दोगुने से ज्यादा दाम थे । सचमुच केंद्र में सत्ता परिवर्तन का यह साइड इफेक्ट है।
बात-बात पर केंद्र से विरोध की राजनीती कर , दिल्ली राज्य से देश भर की राजनीती करने वाले नेता जो देश, दिल्ली की हर छोटी बड़ी समस्या के सिर्फ मोदी जी को ही जिम्मेदार मानते है। क्या रसोई गैस के सस्ती होने के पीछे यही लोग मोदी जी को जिम्मेदार मानेगें ?
मोदी जी विरोध की चर्चा में आजकल मॉनिंग वॉकर्स मजाक में अब यह भी कहते है कि मोदी फोबिया दिल्ली की सरकार के नेताओं पर इस कदर हावी है , यदि इनमें से किसी की शादी न हो, तो वो मोदी जी को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा देंगें ! इसका मतलब यह हुआ कि अब देश में मोदी जी एक जिम्मेदार नेता है तो क्या बाकी बस गैर….। खैर! जो भी हो। कहने वालों की जुबान तो नहीं पकड़ी जा सकती। खुले बाजार में LPG गैस की कीमत कम होने में मै सिर्फ और सिर्फ मोदी जी को ही जिम्मेदार मानता हूँ। इसके लिए वो जरूर बधाई के पात्र है। कहावत भी है हाथ कंगन को आरसी क्या। पढ़े लिखे को फ़ारसी क्या ।

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

328 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran